रिलायन्स कंपनी अब Jio सिम के बाद खोलेगी Jio Bank

रिलायंस कंपनी ने जियो का सिम और जिओ मोबाइल निकालकर टेलीकॉम मार्केट में उथल-पुथल मचा दी है। और अब कंपनी इस बार बैंकिंग सेक्टर में भी तूफान लाने की तैयारी कर रही है। जियो कंपनी अब जिओ पेमेंट बैंक खोलने जा रही है। रिलायंस जियो इस साल के आखिर तक यानी दिसंबर माह में अपना जिओ पेमेंट बैंक लॉन्च कर सकती है। यह पेमेंट बैंक RIL यानी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के साथ पार्टनर्शिप करके खोला जाएगा।

कब होगा जिओ पेमेंट बैंक का शुरुआत

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने जियो को अपनी क्षमता डेमोंस्ट्रेट करने को कहा है और यह साबित भी करने को कहा कि लॉन्च से पहले सभी रेग्यूलेशन के को कंपनी फुलफिल करती है। जिससे जिओ बैंक का रूप ले सके । रिपोर्ट की मानेे तो पेमेंट बैंक लॉन्च में कोई भी देेरी नही होगी दिसंबर माह में लांच कर दिया जाएगा।
यह कंपनी नही है जो पेमेंट बैंक लाने की तैयारी में है। इससे पहले देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी एयरटेल ने पेमेंट बैंक लॉन्च किया है। जियो के पेमेंट बैंक से स्टेट बैंक को भी काफी फायदा होगा। क्योंकि अब रिलायंस जियो के कस्टमर्स गांव में भी है और कंपनी अपना नेटवर्क और बढ़ा रही है। रिलायंस जियो फोन को भी कंपनी सबसे पहले रूरल एरिया में बिक्री करने का ज्यादा टार्गेट रखा है।

पेमेंट बैंक का फायदा

सभी बैंको की तरह रिजर्व बैंक की गाइडलाइन के मुताबिक जिओ पमेंट बैंक मे भी किसी भी कस्टमर का सेविंग अकाउंट खोल सकते हैं। और यूजर 1 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। इस पेमेंट बैंक में डेबिट कार्ड भी जारी कर सकते हैं। इसके अलावा यूटिलिटी बिल, मोबाइल बिल पमेंटेस् के लिए ऑफर्स भी दिए जाएंगे। इतना ही नहीं पेमेंट बैंक्स के पास कस्टमर को सिंपल फाइनांशियल प्रोडक्ट्स जैसे म्यूचुअल प्रोडक्ट्स और इंश्योरेंस देने का भी ऑप्शन दिया जाएगा।

खोला जा सकेगा सैलरी अकाउंट

छोटे बिजनेस वालो के लिए यह फायदेमंद शाबित होगा, क्योंकि इसके तहत पांच छह कर्मचारियों वाले बिजनेस के लिए पेमेंट बैंक में सैलरी अकाउंट भी खुलवाया जा सकता है। यानी अगर जियो ने पेमेंट बैंक लॉन्च किया तो फिर से कई नए ऑफर्स मिल सकते हैं। इसके अलावा जियो का डेबिट कार्ड भी आ सकता है जिससे फुल ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। कुल मिलाकर पेमेंट बैंक से मोबाइल के जरिए बैंकिंग काम काफी आसान हो जाएगा और इसके लिए बैंकों के फालतू चक्कर लगाने से निजात भी मिलेगा। हालांकि इसके अपने दायरे भी हैं जो इसे बैंकिंग से अलग बनाती हैं। और यह भी हो सकता है कि कुछ छोटे बैंको को जिओ बैंक में मर्ज कर दिया जाए।

Part time blogger

techogic India
techogic India